पीरियड्स में सेक्स करना चाहिए या नहीं 

पीरियड्स में सेक्स करना चाहिए या नहीं -Whether to have sex during periods
Whether to have sex during periods

पीरियड्स के दौरान सेक्स को लेकर समाज में कई गलतफहमियाँ है. क्या  पीरियड्स के दौरान सेक्स करना चाहिए ? आइये इस भ्रान्ति को दूर करते है।

मासिक धर्म महिलाओं के शरीर में होने वाली एक प्रक्रिया है जो एक निश्चित अंतराल के बाद स्वाभाविक रूप से होती है।  यह प्राकृतिक शारीरिक प्रक्रिया महिलाओं के प्रजनन तंत्र से जुडी हुई है।

(1 ) पीरियड्स के दौरान सेक्स करना गलत नहीं है… 

गर्भावस्था के  दौरान सेक्स करने के फायदे , नुकसान और सेक्स पोजिशंस 

पीरियड्स के प्रक्रिया के दौरान ज्यादातर लोग यही समझते है की सेक्स करना सही है  नहीं , लेकिन असल में यह धारणा गलत है.  वैज्ञानिक रूप से ऐसा कोई प्रमाण नहीं मिलता है की पीरियड के दौरान सेक्स से स्त्री या पुरुष किसी की भी स्वास्थ्य संबंधी कोई भी हानि होती है , इसलिय डॉक्टर पीरियड के दौरान सेक्स के मना नहीं करते।  लेकिन यह जरुरी है की कपल किसी पूर्वाग्रह से ग्रसित ना हो और भयमुक्त होकर आपसी सहमति से सेक्स करे। बहुत  सारे लोग पीरियड  दौरान सेक्स करने में सहजता महसूस करते है  इसका यह कारण है की इस दौरान स्त्री के प्रजनन अंगो में गीलापन होता है. इस वजह से इस दौरान सेक्स ज्यादा आनंददायक होता और सहज रूप से होता है।

(2 ) पीरियड के दौरान क्या -क्या नहीं खाना चाहिए

बार -बार सेक्स करने से स्त्री के गर्भाशय में सिकुड़न आती है सिकुड़न के बाद गर्भाशय से ब्लड और यूटेरिन लाइनिंग का तेजी से निष्कासन होता है इसलिए पीरियड के दौरान सेक्स करने से पीरियड की अवधि भी कम होती है और शरीर में दर्द और एंठन पैदा करने वाले तत्व भी शरीर से बाहर निकल जाते है। 
पीरियड के समय महिलाओं के शरीर में दर्द होता है और एंठन की परेशानी भी होती है , ऐसे  में सेक्स करने में महिला को इस दर्द और ऐंठन से राहत मिलती है।  इसका कारण यह है की शरीर में ऑक्सीटोसिन , डोपामाइन हार्मोन्स और एंडोरफिंस का स्तर बढ़ जाना होता है। 
कई महिलाओं का स्वभाव पीरियड के दौरान बेहद चिड़चिड़ा हो जाता है , ऐसे में सेक्स से उनका चिड़चिड़ापन कम हो सकता है।  पीरियड  के दौरान हार्मोनल बदलावों के कारण महिलाओं में सेक्स की तीर्व चाह उतपन्न होती है , इसलिए इस दौरान सेक्स करने से चरम आनंद अनुभूति होती है।

(3 ) इंफेक्शन और बीमारियों के खतरे 

Whether to have sex during periods
Whether to have sex during periods
पीरियड के दौरान सेक्स करने से सेक्सुअल ट्रांसमिटेड इंफेक्शन (STIs ) का खतरा बढ़ जाता है।  इस दौरान महिला से पुरुष में या फिर पुरुष से महिला में यह संक्रमण फैलने का खतरा काफी ज्यादा रहता है।  ऐसा इसलिए होता है क्योंकि इस समय महिला की योनि में अतिरिक्त मात्रा में ब्लड और लिक्विड मौजूद रहते है।  इससे बचने का यही उपाय है की आप फीमेल या मेल कंडोम का प्रयोग करें।  पीरियड्स के दौरान गर्भाशय का मुख्यद्वार खुला हुआ रहता है जिस वजह से एचआईवी या हिपेटाइटिस जैसे जानलेवा बीमारियों का खतरा भी बढ़ जाता है।  पीरियड के दौरान योनि के पीएच लेवल में परिवर्तन के कारण यीस्ट और बैक्टीरियल इंफेक्शन का खतरा भी रहता है। 
पीरियड के दौरान सेक्स करने से पूर्व यौन अंगो की स्वच्छता पर विशेष रूप से ध्यान दिया जाए ताकि किसी भी प्रकार के संक्रमण की सम्भावना समाप्त हो जाए। सेक्स से पहले और इसके बाद यौन अंगो को पानी से धोना जरूरी है।  पानी में माइल्ड डिसइन्फेक्टेंट दवा , जैसे डिटोल और सेवलॉन मिलाकर उपयोग किया जाए तो बेहतर रहेगा।

(4 ) पीरियड के कितने दिन पहले या बाद में सेक्स करने से प्रेगनेंसी की संभावना सबसे ज्यादा रहती है 

 
कई लोग इस बारे में सवाल पूछते है की पीरियड के कितने दिन पहले या बाद में सेक्स करने से प्रेगनेंसी की संभावना सबसे ज्यादा रहती है। आपको यह पता होना चाहिए की पुरुष का स्पर्म महिला के शरीर के अंदर लगभग 7 दिनों तक जिन्दा रह सकता है इस हिसाब से अगर महिला में ओव्यलैशन की प्रक्रिया पीरियड से पहले हो चुकी है तो प्रेगनेंसी की संभावना अधिक रहती है।  अधिकांश गर्भधारण अण्डोतसर्ग के दिन या उससे पांच दिन पहले सेक्स करने के कारण होते है और यह पूरी तरह से आपके पीरियड साईकिल पर निर्भर करता है। इसलिए आप गर्भवती होना चाहती है तो आप अण्डोतसर्ग  के समय का इंतजार करे। 
 
पीरियड में सेक्स करते समय निम्न बातों का ध्यान रखे –

(1 ) इस दौरान सेक्स करते समय कंडोम का इस्तेमाल करे।  इससे आप दोनों हर तरह के इंफेक्शन से बचे हुए रहते है।

(2) अगर आप सेक्स का प्लान कर रही है तो अपने सेनेटरी पैड को जल्दी बदले जिससे वहां बैक्टीरिया पनपने ना पाये।

(3 ) दोनों पार्टनर के बीच वैजाइनल लिक्विड के आदान -प्रदान को रोकने के लिए फीमेल कंडोम का इस्तेमाल करे।

(4 )हमेशा नहाकर और शरीर की ठीक से सफाई करने के बाद सेक्स करें।

(5 ) महिलायें सेक्स के दौरान लुब्रिकेंट का इस्तेमाल करे और सेक्स करने के बाद पेशाब जरूर करें जिससे बैक्टीरिया ब्लैडर में प्रवेश न कर पाये।

(6 ) पीरियड में सेक्स करते समय मिशनरी पोजीशन में ही सेक्स करे खासकर मैन टॉप पोजीशन में सेक्स करना सुविधाजनक होता है।

(7 ) पीरियड्स के दौरान सेक्स की इच्छा है या नहीं , इस बात को लेकर अपने पार्टनर से जरूर बात करे। . अगर आप कंफर्टेबल हो तभी इस दौरान सेक्स करे , नहीं तो साफ मना कर दें।

(8 ) पीरियड्स के दौरान सेक्स के पहले और बाद में अच्छे से प्राइवेट पार्ट को वॉश करे। यदि सेक्स के बाद प्राइवेट पार्ट में परेशानी होती है तो डॉक्टर को जरूर दिखाएं।

(9 ) सेक्स से पहले पास में वाइप्स या गिला कपड़ा रखे , ताकि अगर सिचुएशन मेसी हो जाए तो आप सफाई कर सकें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *